आज की व्यस्ततम जीवनशैली में लोग भले ही एकदूसरे को समय नहीं दे पा रहे लेकिन उन के बीच शिष्टाचार की कमी नहीं आई, कम से कम इस संदर्भ में कि वे भिन्नभिन्न मौकों पर एकदूसरे को ‘विश’ करना नहीं भूलते, साथ ही गिफ्ट देने/पहुंचाने में देरी नहीं करते. वैसे भी पश्चिमी कल्चर या यों कहें कि मौडर्न कल्चर में गिफ्ट देनेलेने की परंपरा चलन में खूब है.

भारतीय समाज में हालांकि उपहार की परंपरा हमेशा से रही है लेकिन पश्चिम के प्रभाव के चलते यह ज्यादा फलफूल रही है. इस में शक नहीं कि यह मौडर्न परंपरा समाज में मोहब्बत व खुशहाली का प्रतीक बन कर उभरी है. वहीं, इस के चलते गिफ्ट पैकिंग का काम बढ़ा है और लोग घर बैठे इस काम से खासी कमाई कर रहे हैं.

जो दिखता है वही बिकता है, अब ऐसा नहीं रहा बल्कि आज जो खूबसूरत दिखता है वही बिकता है. इसी थ्योरी पर आधारित यह व्यवसाय उन सभी के लिए परफैक्ट है जो अपनी रचनात्मकता और थोड़ी सी रकम के इन्वैस्टमैंट से घर बैठे खासा कमाना चाहते हैं. गिफ्ट पैकिंग एक सदाबहार, फलताफूलता व्यवसाय है.

कैसे करें शुरुआत

गिफ्ट पैकिंग का व्यवसाय शुरू करने के लिए आप 5 से 10 हजार रुपए के निवेश से भी शुरुआत कर सकती हैं. आप चाहें तो इस के लिए ट्रेनिंग भी ले सकती हैं. मार्केट में अपने व्यवसाय को पहचान दिलाने के लिए सर्वप्रथम उसे एक अच्छा नाम दें.

ध्यान रखें, नाम ऐसा हो जिस से रचनात्मकता झलके. उस के बाद उस जगह का निर्धारण करें जहां से आप अपने व्यवसाय की शुरुआत करेंगी. यह जगह घर का कोई कोना भी हो सकता है. साथ ही, आप को चाहिए एक बड़ी टेबल जिस पर रख कर आप गिफ्ट की पैकिंग करेंगी.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
COMMENT