सरकार ने कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए 12वीं परीक्षाओं को स्थगित कर दिया है और 10वीं की परीक्षाए लिए बिना सब के 11वीं में भेज दिया है. मातापिता व छात्रों ने थोड़ी राहत ली है पर यह एक बड़ा बोझ हैं जो वर्षों तक कीमत मांगेगा.

12वीं की परीक्षाओं का टलना मतलब आगे के प्रवेश बंद. कालेजों, टैक्नीकल इंस्टीट्यूटों, विदेशी कालेजों आदि सैंकड़ों एडमीशन 12वीं की समय पर होने वाली परीक्षाओं का टिकी हैं. 12वी की परीक्षा न केवल युवाओं के लिए चैलेंज है उन के मांबाप की परीक्षा भी और बेहद मोटा खर्च भी. यह परीक्षा उन सब के सिर पर सवार रहेगी और खर्च चालू रहेगा. 12वीं की परीक्षा महीने 2 महीने बाद होगी और तब तक तैयारी करते रहना होगा.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT