रोहित को बरसों बाद देख कर ममता के जेहन में पुरानी स्मृतियां फिर उभरने लगीं. वह एक बार फिर बहकने लगी, लेकिन रोहित के असली चेहरे से रूबरू होने पर ममता को जैसे किसी ने यथार्थ के कठोर धरातल पर ला पटका.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now