बालों में कलर करना आजकल आम बात हो गई है कुछ लोग फैशन के लिए तो कुछ लोग सफेद हो चुके बालों को छुपाने के लिए तरह-तरह के रंगों का प्रयोग करते हैं. एक आंकड़े के मुताबिक करीब लगभग 75 फीसदी महिलाएं बालों को कलर करती हैं. कलर कराने से कुछ हानियां भी हैं. कलर करने में जरा सी लापरवाही आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है. इस समय बाजार में कई तरह के कलर मौजूद हैं. नेचुरल कलर, टेम्‍परेरी कलर और परमानेंट हेयर कलर. हम आपको बता रहे हैं कि बालों में कलर करने से आपको क्‍या नुकसान हो सकता है और इससे आप कैसे बच सकते हैं.

1. हेयर डाई करते समय एलर्जी का रखें ध्यान

कुछ लोग बालों में डाई लगाते हैं. इससे कुछ लोगों को एलर्जिक रिएक्शन होता है. ये रिएक्शन मामूली असर वाला या फिर गंभीर भी हो सकता है. बालों में कलर करने के बाद यदि आपको सिर की स्किन में मामूली जलन या सनसनाहट महसूस हो तो यह एलर्जी की शुरूआत हो सकती है. अगर कलर करने के बाद आपके माथे, कान, गर्दन के पीछे सूजन और आंखों में जलन की शिकायत होती है तो यह एलर्जी का गंभीर मामला हो सकता है.

ये भी पढ़ें- 4 टिप्स: गरमी में हेल्दी स्किन के लिए बेस्ट है टमाटर

2. हेयर कलरिंग से बचें कैसे

कुछ सावधानी बरत कर बालों में हेयर डाई से हो सकने वाले नुकसान से बच सकते हैं. ऐसा करने से आपके सिर के बाल ज्‍यादा समय तक ठीक रहेंगे. जब भी आप किसी नए ब्रांड को इस्‍तेमाल करें तो पहले उसके बारे में अच्‍छे से जानकारी कर लें. ऐसा देखा गया है कि कई बार कुछ लोग कलर बदलने से एलर्जी का शिकार हुए हैं. कोशिश करें कि आप लगातार एक ही अच्‍छा ब्रांड उपयोग करें.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 2000 से ज्यादा कहानियां
  • ‘कोरोना वायरस’ से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • हेल्थ और लाइफ स्टाइल के 3000 से ज्यादा टिप्स
  • ‘गृहशोभा’ मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • 2000 से ज्यादा ब्यूटी टिप्स
  • 1000 से भी ज्यादा टेस्टी फूड रेसिपी
  • लेटेस्ट फैशन ट्रेंड्स की जानकारी
Tags:
COMMENT