मौनसून आते ही मौसम सुहाना तो हो जाता है, लेकिन इसकी शुरुआत के साथ ही कुछ ऐसी चीजें भी हैं जिनका ख्याल रखना जरुरी है. इसलिए बारिश के लिए खुद को तैयार करने के साथ-साथ घर को भी तैयार रखना जरूरी है. मौनसून में लकड़ी के फर्नीचर, दरवाजे और खिड़कियों का ख्याल रखने की ज्यादा जरूरत होती है क्योंकि बारिश के कारण नमी होती है और नमी लकड़ी में सीलन लगने का खतरा होता है. इसके साथ भी घर से जुड़ी और भी प्रौब्लम्स हैं, जिन्हें आज हम मौनसून से निपटने के लिए आपको बताएंगे, ताकि आप तैयार रह सकें.

1. फर्नीचर की करें खास देखभाल

मौसम की नमी लकड़ी की गुणवत्ता और शेप पर बहुत बुरा असर डालती है. इसमें फंगस जमा हो सकती है. इस मौसम में हल्के गीले कपड़े की बजाय साफनरम और सूखे कपड़े से फर्नीचर साफ करें. लेमिनेटेड फर्नीचर जैसे स्टडी डेस्क, अलमारी, शटर या डोर को साफ करने के लिए साबुन और पानी का इस्तेमाल करें. इस बात का खास खयाल रखें कि अलमारी में रखने से पहले कपड़े पूरी तरह से सूख चुके हों. अलमारी में थोड़ी-बहुत सूखी नीम की पत्तियां भी डाल दें.

ये भी पढ़ें- 4 टिप्स: मौनसून में ऐसे करें गंदे जूतों की सफाई

2. कारपेट्स और रग्स रखें साफ

मौनसून कारपेट्स और रग्स पर बहुत ही बुरा असर डालता है. बारिश में खिड़कियां खुली न रखें, उनसे नमी अंदर आकर कारपेट्स में समा जाएगी. नम कारपेट्स फंगस का बहुत बड़ा घर होते हैं. इसी तरह से कारपेट पर गीले फुटवियर ले जाने से भी बचें. बेहतर होगा कि पंखा चलाए रखें. कारपेट्स को नियमित रूप से वैक्यूम क्लीन करती रहें. वैसे अच्छा यही होगा कि इस मौसम में भारी कारपेट्स उठा कर रख दें. आप इकोफ्रेंडली कारपेट्स भी इस्तेमाल कर सकती हैं. इनकी ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती.

3. सीलन आने से रोकें

बारिश के दिनों में अक्सर दीवारों और छतों पर सीलन आ जाती है. अगर दीवार या छत पर हल्की सी भी दरार है, खिड़कियां सही नहीं हैं तो घर की दीवारें बुरी तरह से प्रभावित होती हैं. इससे पेंट भी पपड़ी के रूप में उतर सकता है. इन दिनों जो पेंट्स लगाए जाते हैं, वे भी नमी को आसानी से पकड़ लेते हैं और फिर पपड़ी के रूप में उतर जाते हैं. आरसीसी की छत में भी पानी घुस सकता है. इसलिए बारिश आने से पहले ही पूरे घर की दीवारों को चेक करें और सारे पाइपों और नालियों की सफाई करवा लें.

4. सोफों की करें सफाई

बारिश के मौसम सोफों को वैक्यूम क्लीन करना न भूलें. वैक्यूमिंग करते समय क्लीनर को गर्म हवा वाले मोड पर रखें. सोफे के कोनों में नेफ्थलीन की गोलियां डाल दें.

ये भी पढ़ें- 6 टिप्स: मौनसून में ऐसे रखें सिल्क साड़ी का ख्याल

5. किचन भी करें साफ

किचन के सारे केबिनेट्स को खाली करके अच्छी तरह साफ करें. खाना खुला न छोड़ें. फ्रिज को भी अच्छी तरह साफ करके देख लें, जो खाद्य सामग्री पुरानी हो गई है, उसे फेंक दें. पेड़पौधों की कटाई करें. बारिश में पेड़-पौधे जल्दी बढ़ते हैं, इसलिए इन्हें ट्रिम कर दें.

6. इलेक्ट्रौनिक सामानों का भी रखें खास ख्याल

बारिश की नमी से सबसे का असर इलेक्ट्रौनिक सामानों पर भी पड़ता है इसलिए कोशिश करें की इलेक्ट्रिकल गैजेट्स को लेकर खास सावधानी बरतें. उन्हें सिलिकौन पाउच में रखें ताकि सीलन से बच सकें.

Tags:
COMMENT