रिमझिम फुहारें माहौल को खुशनुमा बना देती हैं. भीषण गरमी के बाद बारिश सब को राहत देती है, लेकिन इसे आप तभी ऐंजौय कर सकती हैं, जब आप का घर फ्रैश और सुगंधित हो. इस बारे में इलिसियम एबोडेस की फाउंडर और इंटीरियर डिजाइनर हेमिल पारिख बताते हैं कि असल में लगातार बारिश की वजह से हवा में नमी की मात्रा बढ़ जाती है. घर के अंदर भी यह नमी प्रवेश कर जाती है. गरमी और नमी की अधिकता से घर की दीवारों पर सीलन आ जाती है, फफूंदी आदि लग जाती है, जिस से बासी गंध चारों तरफ फैल जाती है. स्वच्छ हवा की कमी होने लगती है. इसलिए जरूरी है कि आप अपने घर और आसपास के क्षेत्र को साफसुथरा रखें, ताकि आप को स्वच्छ और अच्छा वातावरण मिले. पेश हैं, कुछ जरूरी टिप्स:

1. कपूर को अधिकतर लोग किसी खास अवसर पर ही जलाते हैं. बारिश में इसे जलाने से फंगल इन्फैक्शन और बासी गंध से बचा जा सकता है. इसे जलाने के बाद कमरे के दरवाजे और खिड़कियां बंद कर 15 मिनट बाद खोल दें. रूम में ताजगी आ जाएगी.

2. अगर आप के कमरे में फर्नीचर है तो उसे गीला होने से बचाएं. गीले फर्नीचर से कई बार दुर्गंध आती है.

ये भी पढ़ें- 6 टिप्स: मौनसून में रखें घर का खास ख्याल

3. पायदान को गीला न होने दें. हर 2-3 दिन बाद उसे पंखे के नीचे रख कर सुखाएं.

4. कुछ लोग बारिश के मौसम में कीड़ेमकोड़ों के डर से दरवाजे और खिड़कियां बंद रखते हैं. इस से कमरे के अंदर बासी गंध अधिक होती है. अत: थोड़ी देर के लिए ही सही पर खिड़कीदरवाजे खुला रखें ताकि बाहर की ताजा हवा अंदर आ सके. इस से क्रौस वैंटिलेशन होने के साथसाथ कमरे की दुर्गंध भी जाएगी.

5. समुद्री नमक किसी भी गंध को सोखने के लिए अच्छा विकल्प है. यह कमरे की नमी को कम करने के अलावा दुर्गंध को भी सोख लेता है. नमक को पतले कपड़े में रख चारों तरफ से सिल कर कमरे में रखें. हर 3-3 दिन बाद नमक को बदल दें.

6. बासी गंध को दूर करने के लिए विनेगर बहुत अच्छा काम करता है. चौड़े मुंह वाले बरतन में 1 कप विनेगर डाल कर कमरे के किसी कोने में रख दें. थोड़ी ही देर में आप को ताजगी का एहसास होने लगेगा.

7. आजकल बाजार में रूम फ्रैशनर आसानी से मिलते हैं. अपनी पसंद के अनुसार ले कर कमरे में स्प्रे कर सकती हैं. इस में लैवेंडर, जास्मिन, गुलाब आदि फ्रैशनैस महसूस कराते हैं.

8. नीम के पत्ते फफूंद को दूर करने में कारगर होते हैं. इस के पत्तों को सुखा कर कपड़ों के बीच और अलमारी के कोनों में रख सकती हैं.

ये भी पढ़ें- 4 टिप्स: मौनसून में ऐसे करें गंदे जूतों की सफाई

9. किचन में मस्टी स्मैल को कम करने के लिए बेक करने का आइडिया बहुत अच्छा है. बेकिंग से इस की खुशबू पूरी किचन में फैल जाएगी.

10. इस मौसम में तरहतरह के फूल खिलते हैं और इन फूलों की खुशबू को कोई भी नजरअंदाज नहीं कर सकता. ये फूल केवल सुगंध ही नहीं देते, बल्कि फ्रैशनैस भी कायम रखते हैं. गुलाब चंपा, चमेली, जास्मिन आदि सभी फूल अपनी खुशबू से घर को महकाते हैं, इसलिए इन्हें गुलदस्ते में अवश्य सजाएं.

11. सुगंधित मोमबत्तियां और तेल जलाने से भी घर का वातावरण ताजगीयुक्त हो जाएगा.

Tags:
COMMENT