गरमी हो या मौनसून शादी या पार्टी में जाना ही पड़ता है, जिसके लिए हम ज्यादातर साड़ी ही पहनना पसंद करती होंगी. आजकल मार्केट में कईं तरह की साड़ियां भी मौजूद है, जिनमें सिल्क की साड़ियां भी है. सिल्क की साड़ियों का ख्याल रखना सबसे जरूरी होता है क्योंकि अगर हम उसका ख्याल नही रखेंगे तो साड़ी खराब होने का खतरा रहता है. जिससे हमारे कपड़ों के साथ-साथ पैसे भी वेस्ट चले जाते हैं. इसीलिए आज हम आपको लौंग टाइम के लिए कैसे सिल्क की साड़ियों को टिप-टौप बनाकर रखने के लिए कुछ खास तरीके बताएंगे, जिससे आप जब चाहें बिना किसी परेशानी के साड़ियां पहन पाएंगी.

1. मलमल के कपड़े में रखें सिल्क की साड़ियां

सिल्क की साड़ियों को हमेशा मलमल या सूती कपड़े में लपेटकर रखें. मौनसून में नमी की गंध न आए, इसके लिए साड़ियों को थोड़े दिनों में धूप जरूर दिखाएं. कोशिश करें कि सीधी धूप न लगे. पानी गिर जाए तो गीली साड़ी को धूप में सुखाने की गलती न करें, वरना पानी का धब्बा कभी नहीं जाएगा. उसे ड्राइक्लीन कराएं.

ये भी पढ़ें- 5 टिप्स: बर्तन धोते समय रखें इन चीजों का ख्याल

2. आसानी से सिल्क की साड़ियों से निकालें दाग

सिल्क की साड़ी से दाग हटाने के लिए पेट्रोल का का इस्तेमाल करना सही रहेगा. माइल्ड डिटर्जेंट और प्रोटीन स्टाइन रिमूवर से जूस, आइसक्रीम, चाय के दाग बहुत आसानी से निकल जाते हैं. इसे थोड़ी-सी कौटन में लेकर हल्के हाथ से दाग पर मलें. साड़ियों पर ब्रश का इस्तेमाल करने से जरूर बचें, क्योंकि इससे साड़ी फटने का डर होता है.

3. नमी से बचाना है जरूरी

कीड़े, धूल, नमी से रेशम को बचाने के लिए ब्राउन पेपर या सफेद सूती कपड़े में उसे लपेटकर जरी को काला होने से बचाएं. सिल्क की साड़ी को प्लास्टिक कवर या कार्डबोर्ड बौक्स में न रखें. न ही कभी उन्हें लोहे या लकड़ी के हैंगर पर टांगें. बेहतर होगा कि उन्हें साफ पेपर में लपेटकर रखें.

ये भी पढ़ें- बारिश के मौसम में ऐसे सुखाएं कपड़े

4. पानी के छींटे न मारें

सिल्क साड़ी पर फोल्ड के निशान जल्दी बनते हैं. ऐसे में समय-समय पर उन्हें उलट-पलटकर रीफोल्ड करें. दूसरी फैब्रिक की साड़ियों के साथ इन्हें स्टोर न करें. अलग-अलग बटर पेपर पर लपेटकर रखें. सीधी धूप में साड़ी न सुखाएं, ऊपर से कोई मलमल या हल्का सूती दुपट्टा जरूर डालें. आयरन करते समय पानी के छींटे भी न मारें. ऐसा करने से दाग पड़ सकता है. सिल्क की साड़ी को हमेशा ठंडे और डार्क प्लेस में ही स्टोर करें.

5. ड्राईक्लीन है सही औप्शन

सिल्क की साड़ियों की सफाई के लिए ड्राइक्लीनिंग सबसे बेस्ट तरीका है. साड़ी धोने की जरूरत हो तो एक बाल्टी पानी में चौथाई कप डिसटिल्ट वौटर, सफेद सिरका और शैंपू डालकर हल्के हाथ से मलकर धोएं. आपके घर में हार्ड वौटर की सप्लाई होती हो तो सिल्क साड़ी पर लाइट डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें.

ये भी पढ़ें- 5 टिप्स: घर से ऐसे भगाएं खटमल

6. प्रैस करते समय रखें खास ध्यान

अक्सर हम सभी कपड़ों को एक जैसा समझकर उन्हें प्रैस करने की गलती कर देते हैं, लेकिन सिल्क की साड़ी के साथ ऐसा बिल्कुल न करें. सिल्क की साड़ी पर आयरन करते वक्त साड़ी के नीचे कौटन का कपड़ा जरूर रखें.  और अगली बार किसी अन्य पार्टी में जाने के लिए सिलवटें दूर करने के लिए प्रेस करते समय प्रेस का टैम्प्रेचर सिल्क पर सेट कर लें और साड़ी को हमेशा उल्टा करके प्रेस करें. इससे साड़ी के जलने या खराब होने का खतरा कम रहता है.

Tags:
COMMENT