हमारी खूबसूरती में बालों की भूमिका काफी अहम है, तभी तो कुदरत ने इन्हें हमारे सिर पर ताज की तरह सजाया हैं. सचमुच स्वस्थ, घने बाल व आकर्षक हेयर स्टाइल चेहरे की खूबसूरती में काफी फर्क ला सकते हैं, बशर्ते उन्हें रूसी की बुरी नज़र न लगें तो. डैंड्रफ की इसी बुरी नज़र से बालों को बचाने के लिए, आइए जानते हैं दिल्ली के गेट सेट यूनिसेक्स सैलून के मैनेजर एंड हेयर एक्सपर्ट समीरजी से कुछ टिप्स.

बालों की सफाई है जरूरी

बालों को स्वच्छ रखने के लिए सप्ताह में कम से कम दो बार शैंपू से बालों को अच्छी तरह धोएं, जिससे सिर में शैंपू के अवशेष न रहें. बाल धोने के लिए बहुत ज्यादा गर्म पानी की बजाय गुनगुने पानी का प्रयोग कीजिए.

ये भी पढ़ें- सर्दियों में विंटर वेडिंग के लिए जान लें मेकअप से जुड़ी ये जरूरी बातें

खाने पर कंट्रोल है जरूरी

रूसी से अपने बालों को बचाने के लिए तली-भुनी चीजों का परहेज करें और अपनी डाइट में पौष्टिक आहार जैसे दूध, दही, हरी-सब्जियां, अंकुरित अनाज आदि को शामिल कीजिए.

एलर्जी से बचना है जरूरी

रूसी होने का कारण इंफैक्शन या स्किन एलर्जी भी है. इससे बचने के लिए आप अपनी कंघी, तौलिया व तकिये को अलग रखें और जब भी बाल धोएं, तो ये तीनों चीजें किसी अच्छे एंटीसेप्टिक घोल में आधा घंटा डुबोकर रखें और धूप में सुखा कर ही दोबारा इस्तेमाल करें.

तनाव से बचें

अत्यधिक तनाव भी रूसी का कारण है इसलिए खुश रहने की कोशिश करें. यदि हो सके तो योगा और ध्यान का सहारा लें, ऐसा करने से भी तनाव कम होता है. सेब या प्याज को कद्दूकस करके रस निकाल लें. रूई के फाहे से उसे बालों की जड़ों में लगाएं, सूख जाने पर बालों को धो दें.

ये भी पढ़ें- सर्दियों में इन 5 टिप्स से ग्लोइंग रहेगी स्किन

करें मालिश

डैंड्रफ की समस्या आमतौर पर ड्राई और औयली दोनों किस्म के बालों में होती है। यदि रूखी रूसी है तो बालों में जैतून के तेल की मालिश कीजिए। इसके बाद गर्म तौलिए से बालों को भाप देकर 4-5 घंटे बाद बाल धो लें।

औयली बालों के लिए करें ये काम

अगर आपके सिर में औयली बाल होने के कारण रूसी है तो एक चम्मच त्रिफला पाउडर को एक गिलास पानी में डालकर कुछ देर के लिए उबाल लें. ठंडा हो जाने पर इसे छान कर सिरके में मिक्स करके रात में इससे सिर की मसाज कर लें. सुबह किसी अच्छे शैंपू से बाल धो लें. इसके अलावा तेल की बजाय हेयर टौनिक से बालों की मसाज कीजिए.

ये भी पढ़ें- विंटर वेडिंग के लिए ऐसे करें तैयारी

कौस्मेटिक क्लीनिक से ले मदद

इन सब विधियों के बावजूद यदि आपकी समस्या का हल न हो तो किसी अच्छे कौस्मेटिक क्लीनिक में जाकर ओजोन ट्रीटमेंट या बौयोप्ट्रोन की सिटिंग ले सकती हैं। इससे डैंड्रफ तो कंट्रोल होगा ही साथ ही डैंड्रफ की वजह से हो रहें हेयर फौल में भी नियंत्रण होगा.

Tags:
COMMENT